आंदोलन के दबाब में 8नवम्बर को मुख्यमंत्री ने वार्ता के लिए बुलाया: सुभाष लांबा करनालः31अक्टूबर2021*

*आंदोलन के दबाब में 8नवम्बर को मुख्यमंत्री ने वार्ता के लिए बुलाया: सुभाष लांबा करनालः31अक्टूबर2021*

*एक एक छंटनीग्रस्त कर्मचारी की बहाली तक आंदोलन जारी रहेगाः सुभाष लांबा*

#करनाल31अक्तूबर(NIRMALSandhu) : हरियाणा में नियोजित क्षेत्र के कई हजारों कर्मचारियों का रोजगार छीनकर, वर्तमान भाजपा जजपा सरकार आज तक की सबसे बड़ी रोजगार हत्यारी सरकार बन चुकी हैं।आज रविवार को सीएम सिटी करनाल में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रांतीय अध्यक्ष सुभाष लांबा की अध्यक्षता में मंच संचालन महासचिव श्री सतीश सेठी ने करते हुए सामुहिक धरना व प्रदर्शन में एक एक कर्मचारी की बहाली तक आंदोलन जारी रखने का संकल्प लिया गया।सभी वक्ताओं ने कहा कि सरकार अपनी ही सरकार की भर्ती एजेंसियों की गलतियों व शोषणकारी रोजगार नीति की गलतियों की सजा बेकसूर कर्मचारियों व शिक्षको को दी हुई हैं।

 

एसडीएम करनाल ने ज्ञापन ज्ञापन लेते हुए 8 नंबवर 2021मुख्यमंत्री से बातचीत का समय निश्चित किया है।जिस पर सर्व कर्मचारी संघ का कहना था कि हम मात्र बातचीत के लिए बातचीत नहीं करना। चाहते,छंटनीग्रस्त की बहाली के लिए सरकार बातचीत करे।पहले भी वायदाखिलाफी बहुत बार हुई हैं।इसलिए कर्मचारी बातचीत के भरोसे न बैठे,बल्कि आंदोलन की तैयारी जारी रखे।

 

आज के धरने प्रदर्शन में पीटीआई, ड्राईंग टीचर,खेल कोटे के डी ग्रुप के कर्मचारी, स्वास्थ्य विभाग के कोरोना योद्धा,आईटी कर्मचारी, सिंचाई व जनस्वास्थ्य विभाग के,हार्ट्रोन के ई दिशा केन्द्रो, कुरूक्षेत्र विकास बोर्ड महिला पुलिस वालंटियर के छंटनीग्रस्त कर्मचारी, नगरपालिकाओं के छंटनीग्रस्त कर्मचारी,मेडिकल कॉलेजों के छंटनीग्रस्त कर्मचारी,फायरब्रिगेड के छंटनीग्रस्त कर्मचारी व अन्य जगह से,युनिवर्सिटियों के कर्मचारी व अन्य बोर्डों निगमों से छंटनीग्रस्त कर्मचारियों व शिक्षकों की बहाली के लिए व सरकार की वायदा खिलाफी के खिलाफ भारी रोष व्याप्त हैं।

 

रोष का सबसे बडा़ कारण छंटनीग्रस्त कर्मचारियों का बेकसूर होना है।इन सभी के बेकसूर होने,जनता के कल्याणकारी विभागों में जनता को इनकी जरूरत होने पर कोर्ट के साथ साथ स्वयं सरकार ने भी सार्वजनिक रूप से बार बार स्वीकार किया है।गलती को स्वीकारते हुए बार बार इन सभी की रोजगार बहाली का वायदा भी किया।यहीं नहीं इन सभी की छंटनी के लिए असली कसूरवार भर्ती एजेंसियों के खिलाफ एफआईआर भी स्वयं सरकार ने कटवाई है व ठेकेदारों को बार बार स्वास्थ्य मंत्री,चीफ सैकेरेट्री हरियाणा सरकार व मुख्यमंत्री ने छंटनीग्रस्त कर्मचारियों की बहाली के लिए आदेश भी दिये।परन्तु आजाद देश में लौकतांत्रिक प्रक्रिया से चुने शासन व प्रशासन के आदेशों की ठेकेदार अवहेलना करते हैं।

 

सरकार को गुलाम बनाकर रखने वाली भर्ती एजेंसी, कार्पोरेट ठेकेदार आज भी खुले घुम रहे है।अपने पदो पर बने हुए है और बेकसूर शिक्षक व कर्मचारी सजा भुगत रहे हैं।अब ठेकेदारी को खत्म कर प्रधानमंत्री कौशल रोजगार योजना के तहत सदा सदा के लिए ठेकेदारी की भर्ती नीति बनाई जा रही हैं,जो हरियाणा का बेरोजगार युवा सहन नहीं करेगा।हिन्दुओं की तथाकथित पैरोकार सरकार दिवाली पर लाखो दीये लगाकर- बजट चाटकर हिमायत का ढ़ोग करती है,परन्तु *छंटनीग्रस्त कर्मचारियों के घर बहाली का दिया नहीं जलाएगी तो आगामी 12दिसंबर को जिला उपायुक्तों के यहा हल्लाबोल घेराव किया जाएगा।* सरकार की छंटनीग्रस्त शोषणकारी व वायदाखिलाफ नीति का रोष गगनभेदी नारो के रूप में बार बार प्रकट हो रहा था।

 

आज इस मौके पर महासचिव सतीश सेठी,कोषाध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद,नरेश शास्त्री,इन्द्रसिंह बडा़ना,नैब जी,राजबीर बेरवाल,एसटीएफआई के राष्ट्रीय महासचिव सी.एन.भारती,अध्यापक संघ के धर्मेंद्र ढा़डा,प्रभुसिंह,, पीडब्ल्यूडी मैकेनिकल वर्कर्स यूनियन पीडब्ल्यूडी मैकेनिकल वर्कर्स यूनियन के राज्य प्रधान कृष्ण शर्मा करनाल जिला के प्रधान मलकीत सिंह सुशील गुर्जर रोहतास भाग सिंह एनपी सिंह रिटायर्ड कर्मचारी संघ के राज्य के नेता वाइ पी यादव, सेवाराम जगमाल सिंह जगतार सिंहसहित सभी छंटनीग्रस्त कर्मचारियों का राज्य नेतृत्व ने कर्मचारियों को संबोधित किया।इस मौके पर हजारो कर्मचारी , शिक्षक व बहनें धरने प्रदर्शन में शामिल रही।

 

 

ग्रुप और एकल विधाओं में दिखाया अपनी प्रतिभा का जलवा ,स्टाफ ने किया विद्यार्थियों को सम्मानित

#कल्चरल_फेस्ट_में_छाई_राजकीय_कन्या_मॉडल_संस्कृति_विद्यालय_की_छात्राएं

ग्रुप और एकल विधाओं में दिखाया अपनी प्रतिभा का जलवा ,स्टाफ ने किया विद्यार्थियों को सम्मानित

Nirmalsandhu) : करनाल में हुए जिला व राज्यस्तरीय कल्चरल फेस्ट 2021 में राजकीय कन्या मॉडल संस्कृति सीनियर सेकेंडरी विद्यालय रेलवे रोड की छात्राओं ने जमकर अपनी प्रतिभा के जलवे बिखेरे। उनकी इस उपलब्धि पर स्कूल स्टाफ ने आज एक कार्यक्रम में विजेता छात्राओं को सम्मानित कर उनका हौसला बढ़ाया। कल्चरल फेस्ट में इन छात्राओं ने खुद को साबित करते हुए दिखा दिया की बेटियां किसी भी मायने में बेटों से कम नही होती। करनाल में सम्पन्न हुए गायन, नृत्य व कोरियोग्राफिक प्रतियोगिताओं में राजकीय कन्या मॉडल संस्कृति सीनियर विद्यालय की छात्राओं ने जूनियर व सीनियर वर्ग में उच्च स्थान हासिल किया।

 

#विद्यालय के प्रिंसिपल महेंद्र सिंह नरवाल व स्टाफ ने आगे भी इस जीत को दोहराने की बात कहते हुए कहा कि कल्चरल फेस्ट की जिला स्तरीय प्रतियोगिताओं में स्कूल की छात्राओं ने रागनी गायन व समूह नृत्य में बाजी मारते हुए जूनियर वर्ग में प्रथम स्थान हासिल किया। इसी प्रकार एकल और समूह नृत्य में भी विद्यार्थियों ने प्रथम स्थाम प्राप्त किया। सीनियर वर्ग में फोक सॉन्ग में द्वितीय व एकल नृत्य में दूसरा स्थान हासिल किया।

 

#इसी प्रकार राज्यस्तरीय प्रतियोगिता में एकल नृत्य में तृतीय स्थान , समूह नृत्य में उनके विद्यार्थी प्रथम स्थान पर रहे। कोरियोग्राफिक रविदत्त और गायन के लिए डॉ रशमीत ,सुनीता , सीमा व स्कूल स्टाफ ने कड़ी मेहनत से छात्राओं को तैयार किया। उन्होंने कहा की चाहे शिक्षा हो अथवा सांस्कृतिक कार्यक्रम हमारे विद्यार्थी हमेशा अव्वल आते है। ऐसे छात्रों पर हमें गर्व है और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना करते है।