मुख्य आरोपी को शरण देने के अपराध में गिरफ्तार किया गया था।

 

मुख्य आरोपी को शरण देने के अपराध में गिरफ्तार किया गया था।

आरोपी को शरण देने वाले तीन आरोपियों को पहले ही किया जा चुका है गिरफ्तार

 

दिनांक 10.10.2021 को महिन्द्र सिंह पुत्र गुरदयाल सिंह वासी नीयर हैफेड कालोनी बुटाना जिला करनाल ने पुलिस को ब्यान दिया कि उसका घर हैफेड के मैन गेट के पास पडता है और यह रास्ता बुटाना कालोनी से होता हुआ बुटाना गांव के खेतों की तरफ चला जाता है। जोकि उसके घर के आगे से अमन वासी डेरा बुटाना अपनी एंडेवर गाडी को हमेशा तेज रफ्तार में निकाल कर ले जाता था। जिससे किसी के गाडी की चपेट में आने की संभावना बनी रहती थी। दिनांक 10.10.2021 को सुबह के समय महिन्द्र उपरोक्त व उसके परिजन घर के सामने गली में खडे होकर अमन के पिता बलविन्द्र को इस बात को लेकर अमन को समझाने की कहने लगे। इस बात को सुनकर बलविन्द्र तैस में आ गया और अपने लडके अमन द्वारा ऐसे ही तेज रफ्तार में गाडी चलाने की धमकी देने लगा। उसके थोडी देर बाद ही अमन अपनी एंडेवर गाडी को तेज रफ्तार में चलाकर व जाति सूचक शब्द कहकर गली में खडे महेन्द्र के परिवार के लोगों पर गाडी चढाकर गाडी को लेकर मौका से फरार हो गया और बलविन्द्र भी मौका से फरार हो गया। इस घटना में महेन्द्र के परिवार के कई लोग घायल हो गये थे और महेन्द्र की भाभी राजरानी पत्नी जयपाल व उसके भाई सुभाष की गंभीर चोट आने के कारण मृत्यू हो गई। इस संबंध में महेन्द्र उपरोक्त के ब्यान पर थाना बुटाना में अमन व उसके पिता बलविन्द्र के खिलाफ धारा 302, 307, 34 आईपीसी व एससी/एसटी एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया।

 

मामले की गंभीरता को देखते हुये आरोपी की धरपकड़ के लिए करनाल पुलिस की 6 टीमें गठित की गई। टीमों द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए दिनांक 13 दिसंबर को वारदात में इस्तेमाल एंडेवर गाड़ी को पानीपत के एरिया से बरामद किया गया था। जिसके बाद दिनांक 17.10.2021 को *आरोपी 1. अक्षय पुत्र जगबीर सिंह वासी भैनी खुर्द जिला करनाल 2. तुषार शर्मा पुत्र विरेन्द्र कुमार वासी मकान नम्बर 275 पोल्ट्री एरिया निलोखेडी व 3. राजेश कुमार पुत्र अमर सिंह वासी गांव अन्जन्थली जिला करनाल* को मुख्य आरोपी को शरण देने के अपराध में गिरफ्तार किया गया था।

 

मामले में त्वरित व प्रभावी कार्रवाई करते हुए आज दिनांक 26.10.2021 को निरीक्षक कंवर सिंह प्रबंधक थाना बुटाना व निरीक्षक हरजिंदर सिंह की अध्यक्षता में डिटेक्टिव स्टाफ की टीम द्वारा संयुक्त कार्रवाई करते हुए मुख्य *आरोपी अमन पुत्र बलविंदर वासी एफसीआई कॉलोनी नीलोखेड़ी* को विश्वसनीय साक्ष्यों के आधार पर कुरुक्षेत्र बस स्टैंड से गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में आरोपी द्वारा उपरोक्त वारदात को रंजिशन अंजाम देने बारे खुलासा किया गया। जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी इस दौरान गुडगांव, मुंबई, गोरखपुर व नेपाल के अलग-अलग एरिया में किराए पर कमरा लेकर पुलिस से छुपा हुआ फिर रहा था और किसी तरह से देश से बाहर भागने की फिराक में भी था। आरोपी को कल पेश अदालत करके पुलिस रिमांड पर लिया जाएगा। दोराने रिमांड आरोपी से गहनता से पूछताछ की जाएगी व फरार दूसरे आरोपी को गिरफ्तार किया जाएगा।

 

 

कार फ्री डे पर फरीदाबाद उपायुक्त सहित 

 

सभी अधिकारी साईकिल से आ रहे है 

 

   कार्यालयों में ड्यूटियों पर

 

 

कार फ्री डे पर फरीदाबाद उपायुक्त सहित

सभी अधिकारी साईकिल से आ रहे है

कार्यालयों में ड्यूटियों पर

 

फरीदाबाद उपायुक्त जितेंद यादव ने कहा कि बेहतर स्वास्थ्य व पर्यावरण की सुरक्षा के लिए प्रशासन द्वारा हर बुधवार को कार फ्री डे मनाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सप्ताह में कम से कम एक दिन कार फ्री डे को गंभीरता से लागू करने एक दिन के लिए सभी अधिकारी और कर्मचारी पर्यावरण में गाड़ियों से होने वाले प्रदुषण को कम करने के भागीदार बन रहे हैं। इसकी शुरूआत हमने खुद जिला प्रशासन से करके प्रत्येक बुधवार को कार फ्री डे शुरू कर दिया गया है।

आपको बता दें प्रतेक बुधवार को उपायुक्त जितेंद्र यादव, अतिरिक्त उपायुक्त सतबीर मान, सीटीएम पुलकित मल्होत्रा सहित तमाम अधिकारी और सभी विभागों के जिला अधिकारी और कर्मचारी बुधवार को विश्व कार फ्री डे पर साईकिलों से और पैदल या पब्लिक वाहनों से कार्यालयों में पहुंच रहे हैं। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि हमने यह प्रेरणा बुजुर्गो से मिली है। इस प्रेरणा के स्रोत हैं वे कहते थे कि सप्ताह में एक दिन पैदल चलना चाहिए क्योंकि इससे पर्यावरण को भी शुद्धता मिलती है। इसलिए सप्ताह में प्रत्येक बुधवार के दिन यह मुहिम फरीदाबाद को ग्रीन फरीदाबाद क्लीन फरीदाबाद बनाने में कारगर सिद्ध हो रही है और कम से कम सप्ताह में एक दिन सरकारी वाहनों से होने वाला प्रदूषण भी कम होगा और पर्यावरण में भी शुद्धता आ रही है। डीसी जितेंद्र यादव ने कहा कि यह कार फ्री डे फरीदाबाद में एक जन आंदोलन के रूप में बनाया जाएगा इसके लिए फरीदाबाद के हर एक नागरिक को प्रेरित करके इस आंदोलन का भागीदार बनाया जाएगा।

उपायुक्त जितेंद्र यादव ने आमजन से अपील करते हुए कहा कि वे भी कार फ्रीडे मे प्रशासन का अपना सहयोग दें और सप्ताह में प्रत्येक बुधवार एक दिन कार फ्री डे जरूर मनाएं। इसका उद्देश्य क्लीन फरीदाबाद ग्रीन फरीदाबाद बनने के सभी की भागीदारी सुनिश्चित करना है। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा कि आज कार्यालय में सिर्फ दिव्यांगों को इसके लिए छुट दी गई थी। उपायुक्त जितेंद्र यादव ने कहा अक्टूबर से हर बुधवार को कार फ्री डे मनाया जा रहा है।cp