दिन में रेकी कर रात को चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले दो शातिर चोर करनाल पुलिस ने किये गिरफ्तार, 

दिन में रेकी कर रात को चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले दो शातिर चोर करनाल पुलिस ने किये गिरफ्तार,

 

आरोपियों के कब्जे से कुल 14,36,441 रूपये नगद, 100 डॉलर, 340 यूरो, एक मोबाइल फोन, हाथ की घड़ी, सोने- चांदी के जेवरात व बर्तन किये गए बरामद- डिटेक्टिव स्टाफ इंचार्ज निरीक्षक हरजिंदर सिंह।

 

02 अक्टूबर 2021 करनाल पुलिस के डिटेक्टिव स्टाफ इंचार्ज निरीक्षक हरजिंदर सिंह के नेतृत्व में कार्य करते हुए टीम द्वारा रेकी कर चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की गई है। मुख्य सिपाही जंगशेर डिटेक्टिव स्टाफ की अध्यक्षता में टीम द्वारा दिनांक 5 सितंबर 2021 को एक *आरोपी जय कुमार पुत्र धर्मवीर वासी गोरखपुर उत्तर प्रदेश हाल किराएदार रामबाग कॉलोनी करनाल* को विश्वसनीय सूचना के आधार पर ग्रीन बेल्ट फूसगढ़ रोड से गिरफ्तार किया गया। आरोपी को पेश अदालत करके पुलिस रिमांड पर लिया गया। दौराने रिमांड आरोपी से गहनता से पूछताछ की गई। पूछताछ में आरोपी द्वारा अकेले ही थाना सेक्टर 32/33 व थाना शहर करनाल के एरिया से रेकी करके रात के समय चोरी की आठ वारदातों को अंजाम देने बारे खुलासा किया गया। आरोपी ने बताया कि वह बंद पड़े मकानों को निशाना बनाता था। आरोपी देखता था कि किस घर में काफी दिन से नये अखबार पडे हैं, अखबारों को देखकर आरोपी घर में मकान मालिक के नही होने का अंदाजा लगा लेता था या आरोपी किसी मकान में लेबर का कार्य करते हुये रेकी करता था कि वंहा पडोस में कोई मकान मालिक अपनी गाड़ी में बैग लेकर अपने परिवार के साथ कंही जा रहा है, रात को उस मकान में चोरी की वारदात को अंजाम देता था। रेकी करने के बाद रात के समय मौका लगते ही घर का ताला तोड़कर, दीवार लांघकर या ग्रिल आदि तोड़कर घर के अंदर घुस कर कीमती सामान व नकदी चोरी करके मौका से फरार हो जाता था। आरोपी ने चोरीशुदा सामान को छुपाने के लिये एंकात खाली जगह में एक कैनी जमीन के अंदर गाड़ रखी थी। चोरी करने के तुरंत बाद आरोपी चोरीशुदा सामान को उस कैनी में डालकर रख देता था और उसके उपर मिटटी या कूडा डाल देता था ताकि किसी को भनक ना लगे।

 

जिसके बाद आरोपी चोरीशुदा सामान को अपने साथी *फूलचंद पुत्र भगवती प्रसाद वासी हिमालय कोटी जिला बहराइच उत्तर प्रदेश हाल न्यू बहादुर चंद कॉलोनी जिला करनाल* को रखने व आगे बेचने के लिए दे देता था। जिसको आरोपी फूलचंद उत्तर प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर ले जाकर ओने-पौने दामों पर बेच आता था। जिस पर टीम द्वारा कार्यवाही करते हुए दिनांक 6 सितंबर 2021 को आरोपी फूलचंद को भी गिरफ्तार कर लिया गया। जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी नशा करने के भी आदि हैं।

 

*आरोपियों से पूछताछ व अन्य विश्वसनीय साक्ष्यों के आधार पर आरोपियों की निम्न मामलों में संलिप्तता पाई गई है-*

 

1. मुकदमा नम्बर 01 दिनांक 24.07.2019 धारा 380, 457 आईपीसी थाना सेक्टर-32/33 जिला करनाल। यह मामला शिकायतकर्ता मनीष गांधी पुत्र दलीप कुमार वासी मकान न0. 741 सेक्टर-06 जिला करनाल के ब्यान पर बाबत जुलाई 2019 के दौरान उसके घर का ताला तोडकर उसमें से किसी अज्ञात आरोपी द्वारा नगदी व जेवरात चोरी करने बारे दर्ज रजिस्टर किया गया था। *इस मामले में आरोपी के कब्जे से 3.10 लाख रूप्ये बरामद किये गये।*

 

2. मुकदमा नंबर 278 दिनांक 29 जून 2020 धारा 380,457 आईपीसी थाना सेक्टर 32/33 जिला करनाल। यह मामला शिकायतकर्ता दर्शन लाल मित्तल पुत्र साधुराम मित्तल निवासी मकान नंबर 179 सेक्टर 6 जिला करनाल के बयान पर बाबत दिनांक 28 जून 2020 की रात को अज्ञात आरोपियों द्वारा उसके घर का दरवाजा तोड़कर उसमें से सोने के जेवरात व काफी मात्रा में नकदी चोरी करने बारे दर्ज रजिस्टर किया गया था। *इस मामले में आरोपी के कब्जे से 1,06,800 रूप्ये की नगदी बरामद की गई।*

 

3. मुकदमा नम्बर 420 दिनांक 14.09.2020 धारा 380,457 आईपीसी थाना सेक्टर-32/33 करनाल। यह मामला शिकायतकर्ता ओमप्रकाश पुत्र श्री भगवान दास वासी सेक्टर-07 जिला करनाल के ब्यान पर बाबत दिनांक 11 से 13 सितम्बर 2020 की रातों के दौरान अज्ञात आरोपियों द्वारा उससे घर का ताला तोडकर उसमें से नगदी व सोने चांदी के जेवरात चोरी करने बारे दर्ज रजिस्टर किया गया था। *इस मामले में आरोपी के कब्जे से 70 हजार रूप्ये बरामद किये गये।*

 

4. मुकदमा नंबर 517 दिनांक 18 अक्टूबर 2020 धारा 380, 457 आईपीसी थाना सेक्टर 32/33 जिला करनाल। यह मामला शिकायतकर्ता शिप्रा गुप्ता पत्नी सौरभ गुप्ता मकान नंबर 214 सेक्टर 7 करनाल के बयान पर बाबत दिनांक 12 अक्टूबर से 17 अक्टूबर की रातों के दरमियान अज्ञात आरोपियों द्वारा उसके घर का ताला तोड़कर उसमें से चांदी के जेवरात व एक डीवीआर चोरी करने बारे दर्ज रजिस्टर किया गया था। *इस मामले में आरोपी के कब्जे से 2560 रूप्ये की नगदी बरामद की गई।*

 

5. मुकदमा नंबर 645 दिनांक 8 दिसंबर 2020 धारा 380,457 आईपीसी थाना सेक्टर 32/33 जिला करनाल। यह मामला शिकायतकर्ता देवेंद्र कुमार गुप्ता पुत्र श्री रामकिशन गुप्ता वासी हाउस नंबर 1356 सेक्टर 6 करनाल के बयान पर बाबत उसके मकान से अज्ञात आरोपियों द्वारा सोने चांदी के जेवरात, नगदी व अन्य सामान चोरी होने करने बारे दर्ज रजिस्टर किया गया था। *इस मामले में आरोपी के कब्जे से 8,10,281 रूप्ये नगद, सोने चांदी के जेवरात, चांदी के बर्तन, सोेने की गिन्नी व चांदी के सिक्के बरामद किये गये।*

 

6. मुकदमा नंबर 93 दिनांक 22 फरवरी 2021 धारा 380,457 आईपीसी थाना सेक्टर 32/33 जिला करनाल। यह मामला शिकायतकर्ता अमित गुप्ता पुत्र श्री रामस्वरूप गुप्ता वासी मकान नंबर 132 सेक्टर 6 जिला करनाल के बयान पर बाबत दिनांक 19 फरवरी से 21 फरवरी की रातों के दरमियान अज्ञात आरोपियों द्वारा उसके घर का ताला तोड़कर रुपए, डॉलर, यूरो, मोबाइल फोन, डीवीआर व अन्य सामान चोरी करने बारे दर्ज रजिस्टर किया गया था। *आरोपी के कब्जे से एक मोबाइल फोन, 100 आस्ट्रेलियन डॉलर व 340 युरो बरामद किए गए।*

 

7. मुकदमा नंबर 166 दिनांक 24 मार्च 2021 धारा 380,457 आईपीसी थाना सेक्टर 32/33 जिला करनाल। यह मामला शिकायतकर्ता हरभगवान अरोड़ा वासी सेक्टर 6 जिला करनाल के बयान पर बाबत दिनांक 16 मार्च 2021 को सेक्टर 7 स्थित उसकी भतीजी के मकान से अज्ञात आरोपियों द्वारा रसोई की ग्रिल तोड़कर घर में घुसकर घर से सोने चांदी के जेवरात व नकदी चोरी करने बारे दर्ज रजिस्टर किया गया था। इस वारदात को आरोपी जयकुमार ने अकेले ही अंजाम दिया था और आरोपी फूलचंद के माध्यम से चोरी के सामान को उत्तर प्रदेश के बहराइच ले जाकर बेचा गया था। *आरोपियों के कब्जे से इस मामले में चोरी एक घड़ी व 1,21,500 रूपये नगद बरामद किए गए।*

 

8. मुकदमा नम्बर 234 दिनांक 28.03.2021 धारा 380,457 आईपीसी थाना शहर जिला करनाल। यह मामला शिकायतकर्ता विपिन सिंगला पुत्र राजेन्द्र कुमार वासी मकान न0.462 सैक्टर-05 जिला करनाल के ब्यान पर बाबत दिनांक 25 मार्च से 28 मार्च की रातों के दरमियान किसी अज्ञात आरोपी द्वारा उसके घर का ताला तोडकर उसमें से 35 हजार रूप्ये की नगदी व चांदी के सिक्के चोरी करने बारे दर्ज रजिस्टर किया गया। *इस मामले में आरोपी के कब्जे से 15300 रूप्ये नगद बरामद किये गये।*

 

जांच में खुलासा हुआ कि आरोपी जयकुमार ने उपरोक्त सभी वारदातों को अकेले ही अंजाम दिया था। जांच में यह भी खुलासा हुआ कि आरोपी एक आदतन अपराधी है और पहले भी कई बार चोरी के मामलों में जेल जा चुका है। आरोपी फूलचंद को पहले ही जेल भेज दिया गया था और आरोपी जयकुमार को आज पेश अदालत करके न्यायिक हिरासत में भेजा गया।