किसान उद्यान विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ उठाकर अपनी आमदनी में इजाफा कर सकते हैं। उद्यान विभाग द्वारा मेरी फसल मेरा ब्यौरा,

उपायुक्त एवं कपाल मोचन तीर्थ श्राईन बोर्ड के मुख्य प्रशासक पार्थ गुप्ता ने कपाल मोचन मेला में तैनात विभिन्न विभागों के अधिकारियों को दिए निर्देश जो भी जिम्मेवारी सौंपी गई है, उसे सही प्रकार से निभाएं और अपनी डयूटी में किसी भी प्रकार की कोताही न बरते।

 

 

 

उपायुक्त ने मेला क्षेत्र में प्रशासनिक खंड में अधिकारियों की बैठक भी ली।

 

यमुनानगर/बिलासपुर 17 नवम्बर( )उपायुक्त एवं कपाल मोचन तीर्थ श्राईन बोर्ड के मुख्य प्रशासक पार्थ गुप्ता ने कपाल मोचन मेला में तैनात विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि उन्हें जो भी जिम्मेवारी सौंपी गई है, उसे सही प्रकार से निभाएं और अपनी डयूटी में किसी भी प्रकार की कोताही न बरते। उन्होंने कहा कि मेला कपाल मोचन में विभिन्न प्रदेशों के श्रद्घालू यहां श्रद्घाभाव के साथ आते हैं और उन्हें बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने की जिम्मेवारी प्रशासन की है। इसके लिए प्रशासन द्वारा पहले से ही बेहतर व्यवस्थाएं और प्रबंध किए गए हैं।

 

उपायुक्त ने मेला क्षेत्र में प्रशासनिक खंड में अधिकारियों की बैठक भी ली। उन्होंने कहा कि मेला कपाल मोचन में लगे अधिकारियों की डयूटी बहुत ही अहम होती है। इसलिए सभी अधिकारी अपनी अपनी डयूटी पूरी ईमानदारी व निष्ठïा से निभाएं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए है कि जिस अधिकारी की डयूटी जिस स्थान पर लगाई गई है वे उसी स्थान पर रहकर पूरी निगरानी के साथ अपनी डयूटी निभाए। उन्होंने कहा कि कपाल मोचन मेला में पहुंचने वाले श्रद्घालूओं को किसी प्रकार की असुविधा न हो और श्रद्घालू अपनी यात्रा उपरांत मीठी यादें व सुखद अनुभव लेकर जाएं।

 

इस अवसर पर बिलासपुर के एसडीएम जसपाल सिंह गिल, एसडीएम जगाधरी सुशील कुमार, डीटीओ कम सैके्रट्री आरटीए सुभाष चन्द्र, डीएसपी जितेन्द्र कुमार, यमुनानगर के डीएसपी सुभाष चन्द्र, डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. अनुप गोयल, तहसीलदार तरुण सहोता,नायब तहसीलदार प्रताप नगर तुलसी दास, बीडीपीओ जोगेश कुमार के अतिरिक्त मेला प्रशासन के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे

 

 

 

 

किसान उद्यान विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ उठाकर अपनी आमदनी में कर सकते हैं इजाफा—श्री कपाल मोचन मेला 2021 में लगाई प्रदर्शनी स्थल पर लगाए गए स्टालों पर लोगों को दी जा रही सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं एवं नीतियों की जानकारी।

 

बिलासपुर/यमुनानगर, 17 नवम्बर( )किसान उद्यान विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ उठाकर अपनी आमदनी में इजाफा कर सकते हैं। उद्यान विभाग द्वारा मेरी फसल मेरा ब्यौरा, मधुमक्खी पालन, बागवानी आदि योजनाएं चलाई जा रही हैं। यह जानकारी श्री कपाल मोचन मेला 2021 में प्रदर्शनी स्थल पर उद्यान विभाग द्वारा लगाए गए स्टाल पर दी गई। बता दें कि श्री कपाल मोचन मेला 2021 में विभिन्न विभागों द्वारा प्रदर्शनी स्थल पर लगाए गए स्टालों पर लोगों को प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं एवं विभागीय योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारियां दी जा रही है। इसी कडी में उद्यान विभाग के स्टाल सुपरवाईजर सुनील कुमार ने बताया कि उद्यान विभाग के माध्यम से सरकार द्वारा मधुमक्खी पालन पर 85 प्रतिशत, बाग लगाने पर 90 प्रतिशत व मशरूम उत्पादन पर 75 प्रतिशत राशि अनुदान के रूप में उपलब्ध करवाई जाती है। उन्होंने बताया कि इसी प्रकार सब्जी इत्यादि के बीजों पर भी सरकार द्वारा अनुदान राशि प्रदान की जाती है।

 

इसी प्रकार प्रदर्शनी स्थल में शिक्षा विभाग द्वारा लोगों को शिक्षा के प्रति जागरूक किया जा रहा है एवं शिक्षा विभाग चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी भी दी जा रही है। शिक्षा विभाग के स्टाल पर शिक्षक पवन कुमार ने लोगों को बताया कि प्रदेश सरकार पहली कक्षा से आठवीं कक्षा मुफ्त शिक्षा,वर्दी के अलावा बच्चों से कोई फीस नहीं ली जा रही है। उन्होंने बताया कि प्राथमिक विद्यालयों को 5000 रूपये, माध्यमिक विद्यालयों को 10000 रूपये तथा वरिष्ठï माध्यमिक विद्यालयों को 15000 रूपये की राशि पुस्तकालयों के लिए प्रति वर्ष अनुदान के रूप में दी जा रही है। उन्होंने बताया कि लड़कियों के लिए योग, आत्मरक्षा प्रशिक्षण करवाना तथा सामाजिक कुरीतियों के विरूद्व लड़कियों को जागरूक करने के लिए कार्यशालाओं का आयोजन भी किया जाता है। उन्होंने बताया कि दिव्यांग बच्चों के लिए विशेष अध्यापकों की व्यवस्था, हर वर्ष मैडीकल कैम्प का आयोजन, डॉक्टरों के सुझाव अनुसार आवश्यक उपकरण उपलब्ध करवाए जा रहे हैं।

 

प्रदर्शनी स्थल पर सरकारी विभागों के साथ-साथ स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण द्वारा लोगों को स्वच्छता के बारे विशेष रूप से जागरूक किया जा रहा है और स्वच्छता की महत्ता के बारे विस्तार से जानकारी दी जा रही है। स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण स्टाल के माध्यम से लोगों को बताया कि शौचालय का प्रयोग करने, खाना खाने व बनाने से पहले एवं शौच जाने के बाद अपने हाथ साबुन से अच्छी तरह धोएं एवं स्वच्छ पेयजल का प्रयोग कर स्वयं के साथ-साथ दूसरों को भी बीमारियों से बचा सकते हैं। उन्होंने बताया कि सम्पूर्ण स्वच्छता अभियान के उद्देश्य है कि प्रत्येेक घर में शौचालय का निर्माण व गांव को खुले में शौचमुक्त करना एवं हर गांव को निर्मल ग्राम बनाना है। इसके अलावा आवश्यकतानुसार गांव में सामुदायिक शौचालयों का निर्माण, प्रत्येक पाठशाला एवं आंगनबाडी केन्द्रों में शौचालयों का निर्माण करना है। बेकार पडे कुड़े-कचरे का सुरिक्षत निपटान करने के साथ-साथ सुरक्षित पेयजल, घरेलू व्यक्तिगत व सामुदायिक सफाई के प्रति लोगों में जागरूकता बढाना है।

 

इसके अतिरिक्त विभिन्न विभागों द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी में मत्स्य पालन, कृषि विभाग, खादय एवं आपूर्ति विभाग, स्वास्थ्य विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग के अलावा अन्यों विभागों की 40 स्टाल लगाए गए हैं। वहीं यात्रियों के मनोरंजन के लिए सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग के कलाकारों द्वारा रागनी, भजनों,धार्मिक गीत, पंजाबी गीत और विकास गीतों की मार्फत मौजूदा हरियाणा सरकार की 7 वर्षों की कल्याणकारी योजनाओं के बारे में अवगत करवा रहे हैं।