Karnal-देवताओं की कुल 18 मूर्तियां स्थापित की गयी है

  1. (संवादाता/ निर्मल संधू)    www.aajharyana.com यमुनानगर, 27 जनवरी-होनियांन गली पंसारी बाजार जगाधरी में लगभग 100 वर्ष पुराना मंदिर मूर्ति लक्ष्मी नारायण का जीर्णोद्धार स्वर्गीय लाला प्रदीप अग्रवाल दिल्ली वाले कि धर्म पत्नी समाजसेवी श्रीमती सविता अग्रवाल व उनके बच्चों द्वारा करवाया गया। मंदिर में देवी देवताओं की कुल 18 मूर्तियां स्थापित की गयी है जैसे लक्ष्मी नारायण, राम दरबार, शेरावाली माता, शिव परिवार, हनुमान जी, राधा कृष्ण आदि 3 दिन पूजन अनुष्ठान के बाद 23 जनवरी को मूर्ति स्थापना का कार्य हवन यज्ञ के साथ पूर्ण हुआ व प्रसाद का वितरण किया गया।

मंदिर के मुख्य पुजारी पंडित राकेश कुमार शास्त्री के द्वारा सारा कार्य विधिवत रूप पूजा अर्चना करके पूर्ण करवाया गया इस दौरान भाजपा जिला अध्यक्ष राजेश सपरा, भाजपा व्यपार प्रकोष्ठ जिला सयोंजक पंकज मंगल, भाजपा मंडल अध्यक्ष विपुल गर्ग, अनमोल जिंदल, वरुण कुमार, सुरेश कुमार, नरेश कुमार, अरविंद मंगला, मंजुल गुप्ता, संतोष बंसल, प्रमोद बंसल व रोबिन दत्त, नेहा, पारुल, सोनिया मौके पर

 

 

यमुनानगर, 27 जनवरी-जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नवीन अहूजा ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव- 2022 का आयोजन 3 से 5 फरवरी तक किया जाएगा। इस महोत्सव का उदघाटन 3 फरवरी को सरस्वती उदगम स्थल आदिबद्री में 21 कुण्डीय हवन यज्ञ और मंत्रोच्चारण के साथ होगा।

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नवीन अहूजा ने लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह बिलासपुर में इस महोत्सव के आयोजन के प्रबन्धों को लेकर संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने बताया कि 3 फरवरी 2022 को आदिबद्री में सरस्वती उदगम स्थल पर इस कार्यक्रम का शुभारम्भ किया जाएगा। इसके उपरांत सरस्वती सरोवर पर 21 कुण्डीय हवन यज्ञ, पूजा, अर्चना, आरती कर किया जाएगा। इसके उपरांत केदारनाथ मन्दिर लंगर हाल मेेंं भण्डारा आयोजित किया जाएगा। इस महोत्सव में पौधा रोपण करने के उपरांत कार्यक्रम के मुख्यातिथि और प्रतिभागी सरस्वती उदगम स्थल, सरस्वती तीर्थ, सरस्वती जल दर्शन, नारायण मंदिर और केदारनाथ मंदिर की परिक्रमा करेंगे। कार्यक्रमों का समापन सरस्वती आरती के साथ होगा। उन्होंने इस आयोजन के लिए सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को जिम्मेवारियां सौंपी और सभी कार्य जल्द पूरे करने के निर्देश दिए। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को सडकों की मरम्मत व साफ सफाई के दिशा-निर्देश दिए।

इस बैठक में बिलासपुर के एस.डी.एम. जसपाल सिंह गिल, डी.डी.पी.ओ. शंकर लाल गोयल, छछरौली के तहसीलदार तरुण सहोता, डिप्टी डीईओ शिव कुमार, बीडीपीओ बलराम गुप्ता, एसडीओ अंकुश शहगल, एसडीओ रविंद्र कुमार, जेई राजेन्द्र कुमार, जेई रमेश चंद, एएसआर वीरेंदर टांडा, जेई जितेंद्र सहित अन्य सम्बंधित अधिकारी उपस्थित थे।

यमुनानगर, 27 जनवरी-जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नवीन अहूजा ने बताया कि अंतरराष्ट्रीय सरस्वती महोत्सव- 2022 का आयोजन 3 से 5 फरवरी तक किया जाएगा। इस महोत्सव का उदघाटन 3 फरवरी को सरस्वती उदगम स्थल आदिबद्री में 21 कुण्डीय हवन यज्ञ और मंत्रोच्चारण के साथ होगा।

जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नवीन अहूजा ने लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह बिलासपुर में इस महोत्सव के आयोजन के प्रबन्धों को लेकर संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने बताया कि 3 फरवरी 2022 को आदिबद्री में सरस्वती उदगम स्थल पर इस कार्यक्रम का शुभारम्भ किया जाएगा। इसके उपरांत सरस्वती सरोवर पर 21 कुण्डीय हवन यज्ञ, पूजा, अर्चना, आरती कर किया जाएगा। इसके उपरांत केदारनाथ मन्दिर लंगर हाल मेेंं भण्डारा आयोजित किया जाएगा। इस महोत्सव में पौधा रोपण करने के उपरांत कार्यक्रम के मुख्यातिथि और प्रतिभागी सरस्वती उदगम स्थल, सरस्वती तीर्थ, सरस्वती जल दर्शन, नारायण मंदिर और केदारनाथ मंदिर की परिक्रमा करेंगे। कार्यक्रमों का समापन सरस्वती आरती के साथ होगा। उन्होंने इस आयोजन के लिए सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को जिम्मेवारियां सौंपी और सभी कार्य जल्द पूरे करने के निर्देश दिए। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को सडकों की मरम्मत व साफ सफाई के दिशा-निर्देश दिए।

इस बैठक में बिलासपुर के एस.डी.एम. जसपाल सिंह गिल, डी.डी.पी.ओ. शंकर लाल गोयल, छछरौली के तहसीलदार तरुण सहोता, डिप्टी डीईओ शिव कुमार, बीडीपीओ बलराम गुप्ता, एसडीओ अंकुश शहगल, एसडीओ रविंद्र कुमार, जेई राजेन्द्र कुमार, जेई रमेश चंद, एएसआर वीरेंदर टांडा, जेई जितेंद्र सहित अन्य सम्बंधित अधिकारी उपस्थित थे।