Karnal- वैलेंटाइन डे ना तो भारतीयों की मर्यादा है और ना ही संस्कृति

रादौर (NIRMALSandhu) : लेक्चरर लक्ष्मी चोपड़ा ने कहा कि सरकार को वैलेंटाइन डे को खत्म किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि रोज डे, किस डे, हग डे, विदेशी संस्कृति हो सकती है, यह हमारी संस्कृति नहीं है। वैलेंटाइन डे ना तो भारतीयों की मर्यादा है और ना ही संस्कृति है। बीते सप्ताह युवाओं ने रोज डे, चॉकलेट डे, टेडी डे, पर बहुत खरीदारी की। जबकि यह विदेशी कंपनियों की साजिश है और युवाओं को भटकाने का षड्यंत्र है। ऐसा ना तो माता-पिता सिखाते हैं और ना ही हमारे पूर्वजों में कभी ऐसा होता आया है। इसलिए इस परंपरा को खत्म किया जाना चाहिए। यह परंपरा आधुनिक समाज के लिए शर्मनाक है। इसका बढ़ता प्रचलन निंदनीय है और इससे बचना चाहिए।

 

रादौर – जानकारी देती लेक्चरर लक्ष्मी चोपड़ा।